फ़िल्मी दुनिया

इस वर्ष महिला केंद्रित फिल्मों की रही धूम

मुंबई। बदलते वक्त के साथ-साथ बॉलीवुड में बहुत कुछ बदला है। फिल्म इंडस्ट्री में पहले औरतों की छवि एक अबला नारी की हुआ करती थी। महिलाओं के किरदार ज्यादातर मजबूर मां, भोली-भाली पत्नी, प्यार में पागल प्रेमिका, बहुत ज्यादा ध्यान रखने वाली बहन, अपनी सीमा में रहने वाली बेटी, इस तरह के होते थे| लेकिन अब बॉलीवुड की अभिनेत्रियों का टैलेंट सिर्फ पेड़ों के पीछे नाच गाने में नहीं है। वे न केवल अपने हक के लिए लड़ना जानती हैं बल्कि खुद की सुरक्षा के लिए एक्शन और स्टंट भी करती हैं। 

पिछले कुछ सालों में बॉलीवुड में महिला केंद्रित फिल्मों की लहर चल पड़ी है। इन फिल्मों को देखकर न केवल महिलाएं गर्व महसूस करती हैं बल्कि फिल्मों से प्रेरणा लेकर खुद के लिए लड़ने को भी तैयार रहती हैं। साल 2018 में कई शानदार फिल्में रिलीज हुईं। कई छोटे बजट की फिल्में सुपरहिट रहीं।

कई ऐसी फिल्में भी रहीं जो महिला विशेष होने के बावजूद सुपरहिट रहीं। फिल्म ‘पद्मावत’ में रानी पद्मिनी की भूमिका में दीपिका पादुकोण ने अपने अभिनय से हर किसी का दिल जीत लिया था। फिल्म में रानी पद्मावती की भूमिका में अभिनेत्री ने न केवल सौंदर्य बल्कि हिम्मत और वीरता का भी प्रदर्शन किया। दर्शकों के दिलों में जगह बनाते हुए पद्मावत बॉक्स ऑफिस पर कमाई का 300 करोड़ का आंकड़ा पार करने में सफल रही। इसी के साथ, महिला नेतृत्व में बनी इस फिल्म के साथ 300 करोड़ क्लब में प्रवेश करने वाली दीपिका बॉलीवुड की एकमात्र अभिनेत्री हैं और इस उपलब्धि ने उन्हें बॉलीवुड की रानी बना दिया है।

चुलबुली आलिया भट्ट ने अपनी हालिया रिलीज फिल्म ‘राजी’ में अपने इंटेंस किरदार के साथ हर किसी को हैरान कर दिया था। फिल्म में आलिया के अभिनय को खूब सरहाया गया| यह फिल्म साल की बेहतरीन फिल्मों में शुमार है, जिसे अपनी दमदार कहानी और अभिनय के लिए वर्षों तक याद रखा जाएगा।

करीना कपूर, सोनम कपूर, स्वरा भास्कर, शिखा तलसानिया की फिल्म ’वीरे दी वेडिंग’ एक ऐसी फिल्म रही, जिसमें चार महिलाएं लीड रोल में थीं। इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर अच्छी कमाई की और उन लोगों के मुंह पर ताला जड़ दिया जिनका मानना था कि महिलाएं अपने दम पर फिल्में नहीं चला सकती हैं। इस फिल्म को लेकर खूब बहस और चर्चाएं भी हुईं, लेकिन फिल्म को खूब सराहना भी मिली। रानी मुखर्जी की फिल्म ‘हिचकी’ भी साल 2018 में खूब पसंद की गई। इस फिल्म में रानी मुखर्जी लीड रोल में थीं, और एक ऐसी टीचर के रोल में थी जिसे बिगड़े हुए बच्चों को पढ़ाना था। इस फिल्म को दर्शकों के सामने पेश किया गया तो दर्शकों ने बखूबी अपनाया और पसंद किया।

Show More

Leave a Reply

 Click this button or press Ctrl+G to toggle between multilang and English

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button