Breaking Newsकोलकाता

उलझती जा रही है बागुईहाटी विवाहिता मौत मामले की गुत्थी

मौत का रहस्य गहराता

कोलकाता। बागुईहाटी के रघुनाथपुर इलाके में गत 28 नवंबर को अपने फ्लैट में मृत पाई गई अंतरा आचार्य नाम की 36 वर्षीय विवाहिता की मौत का रहस्य गहराता जा रहा है। मामले की जांच में कई चौंकाने वाले तथ्य सामने आए हैं। इसमें एक तीसरे शख्स के बारे में पता चला है जो अंतरा का पूर्व प्रेमी है।

मंगलवार को मामले की जांच में शामिल एक अधिकारी ने नाम नहीं छापने की शर्त पर इसकी पुष्टि की। उन्होंने बताया कि जांच जारी रहने की वजह से उसके नाम का खुलासा नहीं किया जा सकता है लेकिन सुरजीत से शादी होने से पहले अंतरा उससे प्रेम करती थी लेकिन उसके मां-बाप ने रिश्ते को स्वीकार नहीं किया जिसके बाद उसने सुरजीत से शादी कर ली थी।

इधर शादी के 12 साल बाद भी दोनों का कोई बच्चा नहीं हुआ था और दोनों के रिश्ते भी बहुत अच्छे नहीं थे। एक ही फ्लैट में एक साथ रहने के बावजूद दोनों दो कमरे में अलग-अलग सोते थे। प्राथमिक जांच में इस बात की पुष्टि हुई है कि संभवतः तीसरे शख्स से रिश्ते की वजह से ही पति से उसकी दूरी बढ़ गई थी।

इस बीच जांच में इस बात का भी खुलासा हुआ है कि 28 नवंबर के दिन मौत से 10 दिनों पहले तक अंतरा और उसके प्रेमी के बीच 97 बार फोन पर बात हुई है जो चौंकाने वाली है। ऐसे में पुलिस उसके प्रेमी से भी लगातार पूछताछ कर रही है। उसने आत्महत्या की थी या उसकी हत्या की गई थी इसकी गुत्थी सुलझाने में पुलिस जुटी है।

वारदात वाले दिन कई रहस्यमय घटनाएं हुई जिसने पुलिस को मुश्किल में डाल रखा है। दरअसल अंतरा का पति आईटी क्षेत्र में काम करता है। बीते 28 नवंबर को वारदात वाले दिन दोपहर उसने कई बार अपनी पत्नी के नंबर पर फोन किया था लेकिन उसने फोन नहीं उठाया था। इसके बाद उसने ऑफिस के लैंडलाइन नंबर से फ्लैट के सिक्योरिटी गार्ड को फोन किया था और पत्नी को बुलाने को कहा था। गार्ड फ्लैट में गया भी था, कई बार आवाज देने पर भी जब अंतरा ने अंदर से कोई जवाब नहीं दिया तो गार्ड ने आकर फोन पर सुरजीत को यह बता दिया था।

बावजूद इसके तत्काल लौटने के बजाय वह रात को 9:30 बजे घर आया। उसने भी जब दरवाजा खटखटाया और पत्नी ने नहीं खोला तो वह डुप्लीकेट चाबी से दरवाजा खोलने के बजाय उसे तोड़ने की कोशिश की। इसे लेकर ही पुलिस को उसके पति पर संदेह हुआ जिसके कारण उसे रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया। उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। इसके अलावा फ्लैट में जिस फंदे से झूलते हुए अंतरा की लाश को बरामद किया गया था उसके नीचे दो कुर्सियां भी मिली थी। ऐसा लगता है जैसे इन दोनों कुर्सियों पर चढ़कर उसने आत्महत्या की थी लेकिन उसी कमरे में एक टेबल भी रखा हुआ था।

जांच के लिहाज से देखा जाए तो अगर अंतरा को आत्महत्या ही करनी थी तो दो कुर्सी को जोड़ने के बजाए एक टेबल पर कुर्सी रखती और उस पर चढ़कर आत्महत्या करती। वह ज्यादा सुविधाजनक था और आत्महत्या के लिए आसान भी था लेकिन दो कुर्सी को जोड़ने की थ्योरी पुलिस को खटक रही है। इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि इसमें किसी तीसरे शख्स का भी हाथ है। वह कौन हो सकता है?

क्या पति ने उसे हत्या के बाद फंदे से लटका दिया क्योंकि अंतरा के परिजनों ने यही आरोप लगाया है या उसके प्रेमी ने इस वारदात को अंजाम दिया है। मरने से पहले जिस प्रेमी से उसने 10 दिनों के अंदर 97 बार बात की है उसने पूछताछ में बताया है कि सुरजीत की गैर मौजूदगी में कई बार उसके घर आया था।

उसके साथ समय बिता चुका था यहां तक कि सुरजीत से भी उसका परिचय था और दोनों ने एक साथ मिलकर कई बार कारोबार करने का भी फैसला किया था लेकिन रुपये की कमी की वजह से योजना आगे नहीं बढ़ पा रही थी। कुल मिलाकर देखा जाए तो पति-पत्नी के रिश्ते के बीच तीसरे शख्स की भूमिका भी बहुत बड़ी रही है और शादी के बाद से लगातार उसके साथ अंतरा का संबंध रहा है। जिस दिन अंतरा ने आत्महत्या की है उसी दिन शाम के समय उसे अपनी एक सहेली से मिलना था लेकिन चंद घंटों के अंदर ऐसा क्या घटा कि उसने अपनी सहेली से भी मुलाकात नहीं की और अंत में फंदे से लटकते हुए उसका शव बरामद किया गया।

पुलिस इन सभी पहलुओं को ध्यान में रख कर जांच को आगे बढ़ा रही है। मृतका के पति और प्रेमी से लगातार पूछताछ की जा रही है। इसके साथ ही जांच में सामने आए साक्ष्यों से उनके बयानों को मिलाया जा रहा है ताकि मौत की गुत्थी सुलझाई जा सके।

Show More

Leave a Reply

 Click this button or press Ctrl+G to toggle between multilang and English

Your email address will not be published. Required fields are marked *