Breaking Newsहटके ख़बर

जानिए कैसे बीते दुल्हन के वो 21 घंटे, अपहरण बाद प्रेमी उसे कहां ले गया

 उदयपुर। राजस्थान के बहुचर्चित उदयपुर दुल्हन अपहरण कांड में दुल्हन व उसके प्रेमी के पकड़े जाने के बाद कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। दुल्हन को नारी निकेतन भेज दिया गया है जबकि प्रेमी व उसके साथियों से पुलिस पूछताछ में जुटी है। राजस्थान में सीकर दुल्हन अपहरण केस के 20 दिन बाद ठीक उसी प्रकार से उदयपुर में भी विदाई के बाद दूल्हे के साथ कार में सवार होकर ससुराल जा रही दुल्हन का अपहरण देशभर में सुर्खियों में रहा।

मंगलवार तड़के करीब 4 बजे उदयपुर के सीवान रेलवे स्टेशन के पास से दुल्हन विनिता का उसके प्रेमी प्रियांक ने अपहरण कर लिया था। इस दौरान प्रियांक व उसके साथियों ने दूल्हे से भी मारपीट व गाड़ी में तोड़फोड़ की। फिर दुल्हन को लेकर फरार हो गए थे। उदयपुर पुलिस ने दुल्हन, प्रेमी व उसके सा​थियों को 21 घंटे बाद देर रात करीब 3 बजे जयपुर से दस्तयाब कर बुधवार दोपहर को उदयपुर लाई।

परिजनों से पहले दूल्हे से मिली

दुल्हन को उदयपुर लाए जाने के बाद उसने सबसे पहले दूल्हे क्षितिज से मिलने की ख्वाहिश जताई और उसके सिर पर अपहरण के दौरान लगी चोट देखकर वह भावुक हो गई। फिर दूल्हे के गले लिपटकर फूट-फूटकर रोई। उससे काफी देर तक बातें भी की। शुरुआती पूछताछ में दुल्हन ने दूल्हे के साथ जाने की ही इच्छा जताई है।

खुद दुल्हन ही दे रही प्रेमी को जानकारी

उदयपुर पुलिस की शुरुआती जांच में सामने आया है कि दुल्हन विनिता ( Udaipur Dulhan Vinita ) अपनी शादी से खुशी नहीं थी। वह खुद ही प्रेमी प्रियांक को शादी की पल-पल की जानकारी दे रही थी। दोनों पहले ही भागने का प्लान बना चुके थे। विदाई के बाद उल्टी के बहाने कार रुकवाने की योजना थी, मगर वे एक देवरे पर नारियल चढ़ाने के लिए रुके तो पीछा कर रहे प्रियांक व उसके दोस्त दुल्हन को भगा ले गए।

21 घंटे बाद सिंधी कैंप से पकड़े गए

अपहरण के बाद दुल्हन, प्रेमी व उसके साथियों ने गोर्वधन विलास जाकर मोबाइल बंद कर लिए। इसके बाद टोल नाका टालते हुए डबोक होकर कीर की चौकी पहुंचे, जहां से आकोला, भूपालसागर होकर कपासन गए। बाद में भीलवाड़ा पहुंचकर उन्होंने कपड़े बदले। रात को ट्रैवल्स बस से प्रियांक दुल्हन को लेकर जयपुर रवाना हो गया। तब तक पुलिस ने उसके साथियों को अलग-अलग पकड़ लिया था। पूछताछ में ट्रैवल्स बस से जयपुर जाने की सूचना पर पुलिस ने बस का पीछा किया। जयपुर पुलिस की मदद से सिंधी कैम्प पर बस से उतरते ही पुलिस ने दोनों को पकड़ लिया।

Tags
Show More

Leave a Reply

 Click this button or press Ctrl+G to toggle between multilang and English

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button