कोलकाता

पश्चिम बंगाल में 6 सालों के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंची ठंड

कोलकाता, 28 दिसंबर (हि.स.)। कोलकाता समेत राज्य भर में लगातार बढ़ते ठंड ने 6 सालों के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है। 28 दिसंबर यानी शुक्रवार को कोलकाता का तापमान और अधिक नीचे गिरकर 11.2 डिग्री सेंटीग्रेड पर जा पहुंचा है। यह 2013 के बाद कोलकाता में रिकॉर्ड किया गया सबसे न्यूनतम तापमान है।

इसके अलावा पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग जिले में ठंड ने सारे रिकॉर्ड तोड़ते हुए शुक्रवार को तापमान एक डिग्री सेंटीग्रेड के न्यूनतम स्तर पर जा पहुंचा। वहां का अधिकतम तापमान 8 डिग्री सेंटीग्रेड है। बात करें कोलकाता की तो 2014 में दिसंबर के अंतिम दिनों में महानगर का न्यूनतम तापमान 11.4 डिग्री सेंटीग्रेड रिकॉर्ड किया गया था लेकिन शुक्रवार को यह रिकॉर्ड भी टूट गया और तापमान 11.2 डिग्री सेंटीग्रेड पर जा पहुंचा है।

यह सामान्य से 3 डिग्री कम है। इस बारे में पूछने पर शुक्रवार को अलीपुर स्थित मौसम विभाग के पूर्वी क्षेत्रीय उपनिदेशक संजीव बनर्जी ने बताया कि इस बार ठंड ने 6 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। उन्होंने यह भी आशंका जताई कि दिसंबर खत्म होने में अभी भी 3 दिन बाकी है और यह तापमान और अधिक नीचे जा सकता है।

उन्होंने स्पष्ट किया कि वर्षांत और नववर्ष की शुरुआत भीषण ठंड के साथ होने वाली है। हालांकि उन्होंने यह भी उम्मीद जताई कि जनवरी महीने के पहले सप्ताह के बाद संभवतः तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की जाने लगेगी। बनर्जी ने बताया कि समुद्र तल पर किसी भी तरह का कोई निम्न दाब तैयार नहीं होने की वजह से कश्मीर से लेकर हिमाचल प्रदेश तक से बर्फीली हवाओं का अबाध प्रवेश पश्चिम बंगाल की सीमा में हो रहा है इसीलिए यहां लगातार तापमान में गिरावट दर्ज की जा रही है। गुरुवार को कोलकाता का तापमान 11.5 डिग्री सेंटीग्रेड था जो पिछले 4 सालों के सबसे न्यूनतम स्तर पर था।

अब एक दिन बाद ही तापमान ने 6 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। इसके अलावा ऐसा पहली बार हुआ है जब लगातार 10 दिनों से तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। कोलकाता के अलावा अन्य जिलों का तापमान भी 10 डिग्री से नीचे जा पहुंचा है। दार्जिलिंग में 24 घंटे के अंदर तापमान 2 डिग्री नीचे गिरकर 3 से 1 डिग्री पर जा पहुंचा है।

इसके अलावा हुगली जिले का न्यूनतम तापमान 8 डिग्री सेंटीग्रेड पर और अधिकतम 22 डिग्री सेंटीग्रेड पर रहा जो सामान्य से 3 डिग्री कम है। अन्य जिलों में भी कमोबेश यही स्थिति बनी हुई है। कुल मिलाकर कहा जाए तो 2018 का अंत और 2019 की शुरुआत भीषण ठंड के साथ होने जा रही है। हालांकि जनवरी महीने का पहले सप्ताह बीतने के बाद ठंड से थोड़ी थोड़ी राहत मिलने लगेगी।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *