खेल

फॉर्म और किस्मत के बीच होगी ‘जीत की जंग’

  • 2
    Shares

कोलकाता। कोलकाता नाइट राइडर्स और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच आईपीएल-11 का दूसरा क्लालिफायर ईडन गार्डंस में खेला जाएगा। जहां एलिमिनेटर में राजस्थान रॉयल्स को हराकर केकेआर फॉर्म में है, वहीं प्लेऑफ में पहुंचने के बाद से एसआरएच की किस्मत ठीक नहीं चल रही है। 

9 बार जीत चुका है हैदराबाद 
कोलकाता और हैदराबाद के बीच कुल 14 मुकाबले हुए हैं। इस दौरान 9 बार हैदराबाद जीतने में सफल रहा, जबकि केकेआर के पक्ष में 5 रहे हैं। यहां हैदराबाद का पलड़ा भारी दिख रहा है। 

ईडन गार्डंस पर केकेआर हावी 
ईडन गार्डंस में इन दोनों के बीच कुल 6 मुकाबले खेले हैं, जिसमें से सिर्फ एक ही सनराइजर्स हैदराबाद जीत सका है। अन्य में मेजबान कोलकाता नाइट राइडर्स भारी पड़ा है। आंकड़े बताते हैं कि घरेलू मैदान पर केकेआर को हराना आसान है। हालांकि, इस सीजन में हैदराबाद उसे कोलकाता में 14 अप्रैल को हरा चुका है।

विलियम्सन करेंगे 700 रन का आंकड़ा पार?
एसआरएच कप्तान केन विलियमसन के पास इस सीजन में 700 रन का आंकड़ा पार करने का मौका है। अब तक वह 15 मैचों में 57.08 की औसत से 685 रन बना चुके हैं। अगर वह ऐसा करते हैं तो वह आईपीएल में तीसरे और हैदराबाद के दूसरे कप्तान हो जाएंगे। इससे पहले ऐसा विराट कोहली (2016 में 973 रन) ने आरसीबी और डेविड वॉर्नर (2016 में 848 रन) ने हैदराबाद के लिए किया है।

विकेटों का शतक पूरा कर पाएंगे भुवी 
भुवनेश्वर कुमार को मात्र चार विकेट चाहिये जिससे वे किसी एक फ्रेंचाइजी के लिए खेलते हुए 100 विकेट पूरा कर लेंगे। ऐसा केवल लसिथ मलिंगा (मुंबई इंडियंस), हरभजन सिंह (मुंबई इंडियंस) और सुनील नरेन (कोलकाता नाइट राइडर्स) ही कर चुके हैं।

केकेआर के पांच बल्लेबाज 300 से अधिक के क्लब में शामिल 
कोलकाता के 5 बल्लेबाज इस सीजन में 300 से अधिक रन बना चुके हैं। लिस्ट में कप्तान दिनेश कार्तिक (490), क्रिस लिन (443), रोबिन उथप्पा (349), सुनील नरेन (331) और आंद्रे रसल (313) शामिल हैं। 
नीतीश राणा के 282 रन हैं। अगर वह 18 रन और बना लेते हैं तो उनके भी 300 रन पूरे हो जाएंगे।

यह भी पढें: खतरनाक ‘अनजान’ वायरस, सिर्फ 48 घंटे जीने देगा ये ‘निपाह’

Tags
Show More

Did You Know ?

Mind Test

Leave a Reply

 Click this button or press Ctrl+G to toggle between multilang and English

Your email address will not be published. Required fields are marked *