देश

बीजेपी की नाव डुबायेंगे नीतीश कुमार : उपेंद्र कुशवाहा

बगहा। रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह केंद्रीय मानव संसाधन राज्य मंत्री उपेंद्र कुशवाहा मंगलवार को बाल्मीकि नगर पहुंचे। उनके आगमन पर बिहार के विभिन्न जिलों से आये नेताओं ने उनका पुरजोर स्वागत किया। कार्यकर्ताओं एवं नगरवासियों को संबोधित करते हुए कुशवाहा ने नीतीश कुमार सरकार को इशारे-इशारे में बिहार में हो रही व्यवस्था का संचालन एवं सरकार की कमियों को गिनाते हुए बीजेपी को आगाह कर दिया कि नीतीश सरकार बीजेपी की नाव को डूबोकर ही छोड़ेगी।

इसमें किसी प्रकार का संशय नहीं है | उन्होंने कहा कि बिहार में नीतीश सरकार में शामिल बीजेपी नेता नीतीश कुमार की चरण पादुका को उठाने में लगे हैं ताकि परदेश के महाराज उनसे कभी रूठे नहीं और उनका पद बना रहे। 

बाल्मीकि नगर में स्थित प्रखंड प्रशिक्षण संस्थान के प्रांगण में राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा का स्वागत स्कूली छात्राओं ने गान गाकर किया | तत्पश्चात बाल्मीकि नगर के सुदूर इलाकों से आई हुई आदिवासी महिलाओं ने झंडा का नृत्य प्रस्तुत कर उनका मन मोह लिया। छात्र संघ चुनाव को लेकर पटना में हुई घटना पर उन्होंने कहा कि पटना यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर को प्रशांत किशोर की ओर से धमकाया जाना गलत है।

उन्होंने इसे छात्रों के साथ धोखाधड़ी का मामला भी बताया। अगर उनकी पार्टी के छात्र नेता चुनाव जीत जाते हैं, तो क्या नीतीश कुमार प्रधानमंत्री बन जाएंगे, ऐसा नहीं हो सकता। छात्र संघ का चुनाव पटना यूनिवर्सिटी का मामला है जिस यूनिवर्सिटी से मैं भी पढ़ा हूं और नीतीश कुमार भी पढ़े हैं | क्या वे छात्र संघ के चुनाव के बारे में नहीं जानते हैं।

कुशवाहा ने बिहार सरकार को गरीब एवं गरीब महिलाओं का शोषण करने वाली सरकार और नीतीश कुमार को गरीबों का शोषक बताया। उन्होंने कहा कि जब तक बिहार में शिक्षा और शिक्षा की गुणवत्ता का विकास नहीं होता, तब तक गरीब एवं गरीब महिलाओं का कल्याण नहीं हो सकता। मौके पर झूमटा नृत्य प्रस्तुत करने वाली आदिवासी महिलाओं के रोजगार की मांग पर उपेंद्र कुशवाहा ने उनकी बातों को मानते हुए उन्हें भरोसा भी दिलाया कि बिहार में किसी की भी सरकार हो हम आपकी आवश्यकताओं को पूर्ति करने के लिए हमेशा कटिबद्ध रहेंगे।

Show More

Leave a Reply

 Click this button or press Ctrl+G to toggle between multilang and English

Your email address will not be published. Required fields are marked *