Breaking Newsकोलकाता

भाजपा की रथ यात्रा पर भड़की ममता

कोलकाताः दीदी मैं जाकर सब कुछ कर दूंगा, मैं केवल चुनाव लड़ूंगा.आनेवाले दिनों में ऐसा नहीं चलने वाला. नेताजी इंडोर स्टेडियम में तृणमूल कांग्रेस के वर्धित कोल कमिटी की बैठक में पार्टी कर्मियों के उद्देश्य से कड़ा वार्ता मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दी है. 

रथयात्रा 

रथयात्रा पर ममता ने भाजपा को आड़े हाथों लिया.उन्होंने कहा कि भाजपा की रथ यात्रा वास्तव में रावण यात्रा है. भाजपा के रथ में ऐसो आरोप के सारे साजो सामान मौजूद रहेंगा.वास्तव में यह फाइव स्टार यात्रा है. उन्होंने कहा कि रथ यात्रा के नाम पर भाजपा जिस स्थान से रथ यात्रा निकालेगी बदले में हमारे कार्यकर्ता उस स्थान को पवित्र करने के लिए पवित्र यात्रा निकालेंगे.  

गुटबाजी 

राज्य के विभिन्न जिलों में गुटबाजी सिरचढ़ कर बोल रहा है. शुक्रवार को कोर कमिटी की बैठक से इस विषय में पार्टी कर्मियों को सख्त शब्दों में ममता ने आगाह किया. सुप्रीमो ने कहा कि मैं करुंगा और कोई नहीं करेगा, अब ऐसा नहीं होगा. उल्लेखनीय है कि पुराने व नये तृणमूल के बीच गुटबाजी काफी समय से सत्ताधारी दल के लिए विडंबना बनी हुई है. सभा में उस विषय पर मुख्यमंत्री ने वार्ता दी. उन्होंने कहा कि जो गलत समझकर दूर खड़े हैं उन्हें बुलाकर लायें. जो लोग तृणमूल के खराब समय में साथ थे परंतु असम्मान के साथ अभी बाहर पड़े हैं, उन्हें बुलायें. आश्‍वासन दें. जो दूर खड़े हैं वे मुझे एक चिट्ठी दें.मैं देख लूंगी कि कौन नेता कितना असत्य है.   

भाजपा आरएसएस

शुक्रवार को मुख्यमंत्री ने हमला बोला, उन्होंने कहा कि पार्टी में काफी ऐसे लोग हैं जो अपनी जिम्मेदारी ठीक से निभा नहीं पाते. धमकाते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि सब बैठे रहेंगे और दीदी जाकर सब कुछ कर देगी मैं केवल चुनाव लड़ूंगा. आने वाले दिनों में ऐसा नहीं होगा. इलाकों में घूम घूम कर जनसंपर्क बढ़ाने पर उन्होंन जोर देने की वार्ता दी.भाजपा और आरएसएस के साजिश को समाप्त करने के लिए इलाके के नेता कर्मियों को और सक्रिय होने का तृणमूल सुप्रीमो ने निर्देश दिया.उन्होंने कहा कि मेहनत करनी होगी. सब समस्या में मुझे क्यों दौड़ना पड़ेगा. आप इसकी जानकारी सीमावर्ती जिलों विशेषकर झाड़ग्राम, पुरुलिया, बांकुड़ा में जो तृणमूल नेता कर्मी है वे थाने में जाकर इसकी खबर देंगे. उनका नाम दर्ज रहेगा. पार्टी उन्हें पुरस्कृत करेगी.

ब्रिगेड मिटिंग 

वर्धित कोर कमिटी की बैठक से १९ जनवरी तृणमूल के ब्रिगेड सभा के कार्यक्रम को लेकर भी कर्मियों को निर्देश दिया. १९ जनवरी के ब्रिगेड को लेकर प्रत्येक ब्लाकों में कर्मियों को मिटिंग करने, बूथों में दीवार लेखन का भी ममता ने निर्देश दिया. उल्लेखनीय है कि विरोधी पार्टियों को लेकर केंद्र के मोदी सरकार के खिलाफ ब्रिगेड  में सभा का ऐलान किया है. विरोधियों के साथ गठबंधन के विषय में शुक्रवार को फिर ममता ने स्पष्ट कहा कि आदर्शपंथी वामपंथियों के साथ हमारा कोई विभेद नहीं है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पार्टी के भीतर किसी गद्दार, बेईमान को पनाह नहीं दी जायेगी. शुक्रवार को फिर उन्होंने सतर्क किया. 

 

Show More

Leave a Reply

 Click this button or press Ctrl+G to toggle between multilang and English

Your email address will not be published. Required fields are marked *