Breaking Newsदेश

भाजपा-संघ की विचारधारा को नहीं जीतने देंगे : राहुल गांधी

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष अमित शाह के द्वारा मैसूर (कर्नाटक) में दिए गए विचारधारा के बयान पर पलटवार करते हुए कहा है कि हम नफरत फैलाने वाली भाजपा – संघ (आरएसएस) की विचारधारा को जीतने नहीं देंगे।
उल्लेखनीय है कि अमित शाह ने  कर्नाटक विधानसभा के चुनाव प्रचार के दौरान मैसूर में कहा था कि, ‘पार्टी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) कार्यकर्ताओं पर हमले केसरिया विचारधारा के प्रसार को नहीं रोक सकते हैं।’ इसी पर पलटवार करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर भाजपा संघ की विचारधारा को नफरत की विचारधारा करार दिया है। 

राहुल ने हाल ही में घटी दो घटनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि अपने बेटों को नफरत और सम्प्रदायिकता के कारण खोने के बाद यशपाल सक्सेना और इमाम रशीदी के संदेश ये दिखाते हैं कि हिन्दुस्तान में हमेशा प्यार नफरत को हराएगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की नींव भी करुणा और आपसी भाईचारे पर टिकी है।

हम नफरत फैलाने वाली भाजपा/आरएसएस की विचारधारा को जीतने नहीं देंगे

उल्लेखनीय है कि दिल्ली के ख्याला निवासी यशपाल सक्सेना के पुत्र अंकित सक्सेना की दूसरे मजहब की लड़की के प्यार के चलते जघन्य तरीके से सरेआम हत्या कर दी गयी थी। इसके बावजूद यशपाल सक्सेना ने इस घटना को मजहबी रंग देने की कोशिशों से किनारा कर लिया।

वहीं, पश्चिम बंगाल के आसनसोल में हुई हिंसा में अपने 16 वर्षीय बेटे को खोने के बाद भी मस्जिद के इमाम मौलाना इम्दादुल रशीदी ने शांति की अपील करते हुए कहा है कि अगर बदले की बात की गई तो वह मस्जिद और शहर छोड़कर चले जाएंगे। रशीदी ने कहा, ‘मैं नहीं चाहता कि कोई और भाई अपना बेटा खोए।

यह भी पढें: व्यवसायी पत्नी के वाट्सऐप चैट ने खोली बागुईआटी डकैती कांड की गुत्थी

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *