Breaking Newsदेश

राहुल की राजनीति को देश ने खारिज कियाः अमित शाह

भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में अध्यक्ष अमित शाह ने देश भर से आए पार्टी पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि वंशवाद कांग्रेस की संस्कृति है। वंशवाद और तुष्टीकरण की राजनीति को देश की जनता नकार चुकी है। भाजपा हमेशा से वंशवादी राजनीति और तुष्टीकरण की नीति के खिलाफ रही है।
सोमवार को नई दिल्ली के तालकटोरा इंडोर स्टेडियम में भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि बीते दिनों राहुल गांधी के विदेश में दिए गए एक भाषण में केंद्र सरकार की ओलचना की निंदा करते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष को करारा जवाब दिया। उल्लेखनीय है कि हाल ही में अपनी विदेश यात्रा के दौरान कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने एक पत्रकार वार्ता में कहा था कि राजनीति में वंशवाद कोई खराब बात नहीं है। बल्कि कुछ मायनों में यह जरूरी भी है।
इस पर प्रतिक्रिया देते हुए अमित शाह ने कहा कि राहुल ने जिस तरह से भारत में वंशवाद को जरूरी बताया, भाजपा उसकी कड़ी निंदा करती है। शाह ने कहा कि भाजपा वंशवाद पर नहीं सेवा और कार्यक्षमता की राजनीति में विश्वास करती है। जनकल्याण और हर व्यक्ति की आकांक्षाओं को पूरा करने की राजनीति में ही भाजपा का विश्वास है। आज राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और लोकसभा अध्यक्ष सरीखे शीर्ष पदों पर आसीन लोग समाज की सेवा और ईमानदार राजनीति के दम पर ही गरिमामयी पदों पर आसीन हैं। पिछले चुनावों में ही देशवासियों ने बता दिया था कि जनता काम करने वाला राजनेता चाहती है, वंश पर आधारित राजनीति को उसने खारिज कर दिया था।
अमित शाह ने एक बार कांग्रेस के शासनकाल में हुए घोटालों पर तंज कसा। कांग्रेस उपाध्यक्ष से पूछा कि 12 लाख करोड़ से ज्यादा के भ्रष्टाचार का राहुल जवाब दें। इसके साथ ही उन्होंने कांग्रेस नेता पर सवाल दागते हुए कहा कि कांग्रेस ने जिस प्रकार लंबे समय से देश को विकास से वंचित रखा, राहुल गांधी उसका जवाब दें। शाह ने राहुल गांधी से यह भी पूछा कि वर्षों तक कांग्रेस ने तुष्टीकरण की जो राजनीति की है, उसका आपके पास क्या जवाब है।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *