Breaking Newsकोलकातादेश

लव जिहाद के नाम पर अब तक की सबसे हृदयविदारक घटना

राजस्थानः लव जिहाद के नाम पर एक ऐसी घटना जिसे पढ़कर रोंगटे खड़े हो जाएंगे

  • 2
    Shares
कोलकाता/राजस्थान : लव जिहाद का मुद्दा थमने का नाम नहीं लेता है. समय-समय पर इस मामले को लेकर कई घटनाएं हुई है. इसी से जुड़ी एक ऐसी घटना जिसे पढ़कर आपके रोंगटे तक खड़े हो जाएंगे. घटना राजस्थान के राजसमंद शहर में कलेक्टर दफ्तर से मात्र 600 मीटर की दूरी पर हुई.  लव जिहाद के नाम पर एक व्यक्ति की बड़ी बेरहमी से निर्मम तरीके से हत्या कर उसके शव को जला दिया गया. चकित करने वाली बात यह है कि हत्यारे ने हत्या कर शव जलाते हुए अपनी मोबाइल से वीडियो भी बनवाया और उसे वायरल कर दिया. घटना का वीडियो वायरल होते ही हड़कम्प मच गया है. पुलिस ने इस मामले में लिप्त तीन अभियुक्तों को तुरंत गिरफ्तार कर लिया है.
सूत्रों के मुताबिक गिरफ्तार अभियुक्त का नाम शंभुदयाल रैगर है. वह रैगर मोहल्ला निवासी है. उसके इस हत्या के काम में सहयोग व वीडियोे बनाने में मदद के आरोप में उसके दो साथी को भी दबोचा गया है. शंबुदयाल भवन निर्माण का ठेकेदार है, वहीं मृतक मजदूरी करता था। मृतक का नाम अफराजुल उर्फ भुट्टू (50) है. वह पश्चिम बंगाल के मालदा जिला का रहने वाला था. राजस्थान में मजदूरी करता था.
 आरोपी ने पुलिस को बताया कि अफराजुल उसकी बहन पर गंदी नजर रखने के साथ ही अन्य महिलाओं को भी परेशान करता था, इसलिए उसकी हत्या की दी. हत्या कर शव जलाने का वीडियो वायरल होने के बाद ही शहर ही नहीं देश में यह मामला सनसनी की तरह फैल गया है.
इंटरनेट सेवाएं बंद और पुलिस तैनात
बताया जाता है कि घटना बुधवार की है, लेकिन रात में घटना का वीडिया वायरल होने के बाद गुरुवार सुबह से ही राजसमंद सहित आसपास के क्षेत्रों में तनाव फैल गया. तनाव को देखते हुए प्रशासन ने जिले में इंटरनेट सेवा पर भी रोक लगाने के साथ ही भारी पुलिस बल तैनात किया है. आसपास के चार जिलों की पुलिस को राजसमंद जिले के विभिन्न क्षेत्रों में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए तैनात किया गया है. राजसमंद में तनाव के हालात उत्पन्न हो गए। पुलिस प्रथमदृष्टया इस मामले को आपसी रंजिश का मान रही है, लेकिन लव जिहाद से जुड़ा होने की संभावनाओं को लेकर भी जांच की जा रही है.
डीजीपी ने कहा, यह जघन्य अपराध है
इस मामले में डीजीपी ओपी गल्होत्रा ने बताया कि आरोपी के खिलाफ हत्या की धाराओं में केस दर्ज कर लिया गया है. जांच के साथ और भी गंभीर धाराएं जोड़ी जाएंगी. यह जघन्य अपराध है, यकीन नहीं होता कि एक इंसान इस तरह की वारदात को अंजाम दे सकता है.
जांच के लिए एसआईटी का गठन
इधर राज्य के गृहमंत्री गुलाब चंद कटारिया ने भी इस मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन कर शीघ्र जांच के लिए कहा है. गृहमंत्री ने पुलिस एवं प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक भी ली. पुलिस महानिदेशक ओ.पी. गहलोत्रा ने बताया कि वीडियो सामने आने के बाद ही पुलिस ने राजसमंद के ही रैगर मोहल्ला निवासी आरोपी शंभुदयाल रैगर को गुरुवार 9:30 बजे कैलावा पुलिस थाना क्षेत्र में गिरफ्तार कर लिया है. पूछताछ में उसने हत्या कर शव को जलाने की बात को स्वीकार किया है. इस मामले में शंभुदयाल का सहयोग करने के आरोप में दो संदिग्धों को भी पकड़ा है.
मानवाधिकार आयोग ने मांगी रिपोर्ट  
राजस्थान मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष जस्टिस प्रकाश टाटिया ने इस मामले में राज्य के गृह सचिव एवं पुलिस महानिदेशक से रिपोर्ट मांगी है. आयोग का कहना है कि एक व्यक्ति की हत्या कर वीडियो सार्वजनिक होना बहुत बड़ा मामला है, इस पर अब तक पुलिस क्या कार्रवाई की है. इससे संबंधित रिपोर्ट मांगी गई है.
क्या है पूरी घटना
हत्या का आरोपी शंभुदयाल रैगर से हुई पूछताछ में उसने बताया है कि अफराजुल उसकी बहन पर गंदी नजर रखने के साथ ही अन्य महिलाओं को भी परेशान करता था, इसलिए वह उसे सबक सिखाने के लिए सोच रहा था. बंगाल के मालदा जिला निवासी 50 वर्षीय मजदूर अफराजुल उर्फ भुट्टू को दोस्ती का हवाला देकर बुधवार को उसने उसे एक खेत में बुलाया और फिर वहां कुल्हाड़ी से वार कर उसकी हत्या कर दी. अफरजुल पर कुल्हाड़ी से लगातार कई वार किए, जिससे उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया. हत्या के बाद अफराजुल के शव पर पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी. शव को अधजला छोड़कर वह मौके से फरार हो गया.  मौके से शव के पास ही कुल्हाड़ी, पेट्रोल की खाली बोतल और एक बाइक बरामद की गई. रात भर चली तलाशी के बाद आरोपी को गुरुवार की सुबह केलवा पुलिस थाना क्षेत्र में गिरफ्तार कर देलवाड़ा पुलिस थाने में लाकर पूछताछ किया गया. उससे पूछताछ के बाद पुलिस ने उसके दो साथी को भी दबोचा है. दोनों संदिग्धों में से एक व्यक्ति ने वीडियो बनाया और दूसरे ने अभियुक्त को अपने घर में शरण दी थी. कुछ अन्य लोगों से भी पूछताछ की जा रही है. परिजनों ने आरोपी शंभुदयाल को मानसिक रोगी बताया है. पुलिस ने मनोचिकित्सक को बुलाकर उसकी जांच करवाई है.
वीडियो और पत्र में आखिर क्या है, जब आरोपी ने कहा, बहन की इज्जत का बदला ले रहा हूं 
अफराजुल की हत्या कर शव जलाने के पूरे घटनाक्रम का वीडियो बनाया गया है. एक वीडियो स्वयं आरोपी शंभुदयाल द्वारा बनाया गया, वहीं दूसरा वीडियो एक अन्य मोबाइल से उसके साथी द्वारा बनाया गया. वीडियो में 8 से 10 साल की एक बच्ची भी दिखाई दे रही है. एक वीडियो में हत्या का शव जलाने का पूरा घटनाक्रम है, वहीं दूसरे वीडियो में शंभुदयाल लव जिहाद के खिलाफ लम्बी बयानबाजी करने के साथ ही आरोपी ने खुद देशभक्ति की बातें भी करता दिखा है और कहता है कि वह अपनी बहन की बेइज्जती का बदला ले रहा है. शव के पास से तीन पेज का एक पत्र भी मिला है, जिसमें लव जिहाद के खिलाफ कई बातें लिखी गई है. अब पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि वीडियो में दिखाई दे रही बच्ची का इस हत्याकांड से क्या संबंध है और वीडियो क्यों वायरल किया गया है. आखिर वायरल करने की वजह क्या है.
Show More

Did You Know ?

Mind Test

Leave a Reply

 Click this button or press Ctrl+G to toggle between multilang and English

Your email address will not be published. Required fields are marked *