Breaking Newsकोलकाता

स्मार्ट फोन देने का वादा करना आचार संहिता का उल्लंघन : पार्थ

कोलकाता। स्मार्ट फोन देने का वादा करना चुनावी लॉली पॉप के अलावा और कुछ भी नहीं है। इससे आचार संहिता का उल्लंघन तो ही ही रहा है, भाजपा की नैतिकता भी सवालों के घरे में है। तृणमूल के महासचिव पार्थ चटर्जी ने मुकुल रॉय द्वारा स्मार्ट फोन देने के वादे को आड़े हाथ लेते हुए यह बात कही। 

पार्थ ने आगे कहा कि चुनाव से पहले ही भाजपा में शामिल हुए मुकुल राय जगह-जगह सभाओं में वादा कर रहे हैं कि सत्ता में आने पर वे सभी को स्मार्ट फोन देंगे। यह आचार संहिता का उल्लंघन है। भाजपा की नैतिकता भी पतन की ओर अग्रसर है। बंगाल के लोग गरीब हो सकते हैं लेकिन किसी भी मामले में वे इस तरह के प्रलोभन के आगे आत्मसमर्पण नहीं करेंगे। यह आचार संहित का उल्लंघन है। 

उन्होंने कहा कि राज्य चुनाव आयोग द्वारा जांच नहीं किये जाने का ही नतीजा है कि भाजपा के नेता धर्म के नाम पर धमकी दे रहे हैं। भाजपा द्वारा प्रचार किया जा रहा है, यदि आप भाजपा को वोट देते हैं, तो हम सुनिश्चित करेंगे कि इस क्षेत्र में विशेष समुदाय के लोग प्रवेश नहीं कर सके।

हम इसका तीव्र विरोध करते हैं। हमने चुनाव आयोग को भी इस बारे में बताया है। उम्मीद है कि चुनाव आयोग कार्रवाई करेगा। 
इस बीच रविवार को भाजपा के वरिष्ठ नेता राहुल सिन्हा ने कहा कि चुनाव आयुक्त का भय दिखाया जा रहा है। इस मामले में पार्थ चटर्जी ने कहा कि हम आश्चर्यचकित हैं कि चुनाव आयोग का उपयोग करने के लिए दबाव कैसे बनाया जा रहा है। 

यह भी पढें: फेरों से पहले ससुर के मोबाइल पर पहुंचा होने वाली बहू का अश्लील वीडियो

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *