Breaking Newsदेश

video : WhatsApp पर वायरल हुईं प्रिंसिपल की निजी तस्वीरें, बवाल

गाजीपुर। WhatsApp के चक्कर में जनपद के शिक्षक दम्पत्ति की दुनिया उजड़ते उजड़ते बची। पत्नी अब भी सदमे मे है जबकि प्रधानाचार्य पति भी सहमा हुआ है। जबकि इस तरह की हरकत करने वाले अब भी कानून की निगाह मे नही आये है। मामले को लेकर जिले भर मे चर्चाओं का बाजार गर्म है।

जानकारी के अनुसार जिला मुख्यालय से कुछ ही किलो मीटर दूर ग्रामीण इलाके में इण्टर कालेज चलाने वाले प्रबन्धक अजय यादव की पत्नी जो कि उन्ही के विद्यालय में सीनियर टीचर है। एक माह बाद अपने मायके से छुट्टिया बिताकर 27 जून को अपने पति अजय यादव के घर सहेड़ी पहुॅची।

रात के समय पति पत्नी सो रहे थे या बातचीत कर रहे थे इसी बीच उनके बेटे या घर के किसी बच्चे ने पति पत्नी फोटो मोबाईल से खींच लिया। इस बात की जानकारी भी प्रबन्धक को नही हो पायी।

दूूसरे दिन किसी निजी काम से नन्दगंज बाजार गये और वापस रहे प्रबंधक की मोबाईल रास्ते में कही गिर गयी जिसकी जानकारी उसको घर पहुॅचने के बाद हुयी, और इसी बीच मोबाईल किसी ऐसे व्यक्ति के हाथ लग गयी जो प्रधानाचार्य का विरोधी था।

घटना के दो दिन बात तक प्रधानाचार्य मोबाइल खोजते रहे इसी बीच सोशल मीडिया में पति पत्नी की फोटो यह कह कर वायरल कर दी गयी की अमुक प्रबन्धक अपनी विद्यालय की छात्रा के साथ रंग रेलिया मना रहा है।

फिर क्या था व्हाट्सएप के विद्वानों ने अपना खेल शुरू कर दिया और प्रबंधक और उसकी पत्नी की वायरल फोटो जिले के साथसाथ पूर्वांचल की सुर्खियां बन गयी। इस बात की जानकारी होते ही शिक्षक दम्पत्ति सकते में गया और लोगो को सफाई देने के अलावा कुछ भी नही बचा।

विद्यालय के प्रधानाचार्य अजय यादव ने बताया कि इस घटना उनकी बहुत बड़ी समाजिक क्षति करने का प्रयास किया गया है जो निंदनीय है। उन्होने इस मामले में स्थानीय थाने के साथसाथ आईटी सेल को भी सूचना दी है और तलाश जारी है कि आखिर मोबाइल किसके पास है जिसने इस तरह की घटिया हरकत कर समाज को गलत संदेश देने का प्रयास किया।

 

Tags
Show More

Leave a Reply

 Click this button or press Ctrl+G to toggle between multilang and English

Your email address will not be published. Required fields are marked *