हटके ख़बर

आपका स्मार्टफोन दे रहा है ये खतरनाक बीमारियां

आज के वक्त में मोबाइल फोन लोगों की जिंदगी का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा बन चुका है. हम 24 घंटे मोबाइल को अपने पास रखते हैं. एक रिपोर्ट के अनुसार स्पाइनल सर्जन्स मानते हैं कि आपके स्मार्टफोन इस्तेमाल करने के तरीकों से कई बड़ी गंभीर बीमारियां हो सकती हैं. उनका कहना है कि स्मार्टफोन स्क्रॉल करते वक्त अपने सिर और गर्दन झुकाने की आदत से टेक्स्ट नेक जैसी बीमारी हो सकती है. इस तरह से मोबाइल चालने से गर्दन पर काफी दबाव पड़ता है.

लंबे समय तक ऐसी ही स्थिति बनी रहे तो गर्दन की मांसपेशियों में सूजन और जलन होने लगती है. डॉक्टरों का मन्ना है कि इससे स्कल के बेस के पास हड्डी का एक्सट्रा लंप भी बन जाती है. विश्व स्वास्थ्य संगठन WHO अधिक ज्यादा ऑनलाइन गेमिंग खेलने को भी एक मानसिक बीमारी के रूप में घोषित किया है. गेमिंग डिसऑर्डर से ग्रसित लोग हर वक्त विडियो गेम को तरजीह देते हैं. इस बीमारी में व्यक्ति को नींद नहीं आती है. आंकड़ों की माने तो इस तरह गेम खेलने वाले करीब 10 प्रतिशत लोग गेमिंग डिसऑर्डर से पीड़ित हैं.

इसी तरह नोमोफोबिया भी ऐसी बीमारी है. इसे कैम्ब्रिज डिक्शनरी में भी शामिल किया गया है. एक सर्वे के मुताबिक करीब 53 प्रतिशत लोग मोबाइल फोन यूज न करने पर बेचैन हो जाते हैं. इसमें एक्सट्रीम कंडिशन में उन्हें अटैक भी आ सकता है. सर्वे के मुताबिक स्मार्टफोन का इस्तेमाल करने वाले करीब 43 प्रतिशत यूजर्स ने मोबाइल यूज करने पर अपने अंगूठे में दर्द की शिकायत की है. इस बीमारी में स्मार्टफोन स्वाइप करने और टाइप करने से उंगलियों , कलाई, कोहनी में सूजन आ जाती है.

इस तरह सेल्फी लेने की आदत भी बड़ी खतरनाक साबित हो सकती है. इससे सेल्फाइटिस बीमारी होने की संभावना है. नॉटिंगम ट्रेंट यूनिवर्सिटी के अनुसंधानकर्ताओं ने इस बीमारी की खोज की है. उनका मानना है कि इस आदत से आत्मविश्वास की कमी होती है. रोज 6 बार सेल्फी को सोशल मीडिया पर पोस्ट करने वाले लोग सेल्फाइटिस से पीड़ित हैं. एक रिपोर्ट के अनुसार भारत में अक्टूबर 2011 से नंवबर 2017 के बीच सेल्फी लेते वक्त 260 लोगों मौत हुई है.

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button