Breaking Newsदेश

फूंक मारने से पता चलेगा कोरोना है या नही

नई दिल्ली। भारत और इजरायल द्वारा संयुक्त रूप से एक मिनट के भीतर कोरोना जांच रिपोर्ट के नतीजे देने वाली किट लगभग बन कर तैयार है।​ भारत में इजरायल के राजदूत ने दावा किया कि व्यक्ति के फूंक मारने के बाद 40 सेकेंड में ही कोरोना का पता लगाने वाली जांच किट जल्द मिलेगी।

इजरायल के राजदूत रॉन मल्का ने कहा कि कोरोना संक्रमण का पता लगाने के लिए इस त्वरित जांच प्रौद्योगिकी के तहत किसी व्यक्ति को एक ट्यूब में बस फूंक मारनी होगी और 30 से 50 सेकेंड में इसके नतीजे आ जाएंगे। उन्होंने कहा कि त्वरित जांच किट परियोजना अंतिम चरण में है। इसमें दो-तीन हफ्ते से अधिक वक्त नहीं लगना चाहिए। उन्होंने कहा कि भारत इस त्वरित जांच किट के लिए विनिर्माण केंद्र बने तथा दोनों देश कोविड-19 महामारी की रोकथाम के लिए टीका विकसित करने पर भी सहयोग करेंगे।

Doctor making

राजदूत ने कहा कि यह नई त्वरित जांच निर्णायक है। यह एक शानदार उदाहरण है कि भारत और इजरायल के बीच विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी में कितना सार्थक सहयोग हो सकता है। इस अभियान को हमने ‘खुला आसमान’ नाम दिया है। किट का इस्तेमाल हवाईअड्डों और अन्य प्रमुख स्थानों पर किया जाएगा। यह लागत के लिहाज से भी बहुत सस्ती होगी। राजदूत ने बताया कि भारतीय और इजरायली अनुसंधानकर्ताओं ने चार विभिन्न प्रकार की प्रौद्योगिकी के लिए भारत में बड़ी संख्या में नमूने एकत्र करने के बाद परीक्षण किए हैं। इनमें सांस की जांच करना और आवाज की जांच करना भी शामिल है, जिसमें कोविड-19 का त्वरित पता लगाने की क्षमता है। इनके अलावा आइसो थर्मल जांच भी है, जिसके जरिये लार के नमूने में कोरोना की मौजूदगी की पहचान की जा सकती है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button