Breaking Newsदेश

राजद उच्च जाति की विरोधी नहीं : तेजस्वी

पटना। बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव ने यहां गुरुवार को कहा कि राजद के बारे में गलत प्रचार किया जाता है कि ये उच्च जाति की विरोधी है। उन्होंने कहा, ‘ये प्रचार पूरी तरह से गलत और भ्रामक है। हम प्रगतिशील समाज का पूरा आदर करते हैं और उनके हक की लड़ाई लड़ते हैं।’

बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी राजद ने यहां प्रदेश कार्यकारिणी के पदाधिकारियों का गुरुवार को ऐलान किया। कुशवाहा जाति से आने वाले आलोक मेहता को प्रधान महासचिव बनाया गया है। इस दौरान नई समिति में जगह न मिलने पर कार्यकर्ताओं खूब हंगामा किया। लोगों ने आरोप लगाया कि पार्टी के लिए लंबे समय से काम करने वाले कार्यकर्ताओं को नजरअंदाज किया जा रहा है।

इसके बाद समिति के पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए तेजस्वी ने कहा कि चुनाव जीतने के लिए अधिक से अधिक लोगों को राजद की विचारधारा से जोड़ना होगा।

यादव ने राजद के नवनियुक्त प्रदेश उपाध्यक्ष, महासचिव, सचिव को बधाई और शुभकामनाएं दीं।

उन्होंने कहा कि समितियों में सामाजिक समीकरण पर धयान दिया गया है। समाज के सभी वर्ग, तबके को प्रतिनिधित्व दिया गया है। पिछड़े, अत्यंत पिछड़े, दलित, अदिवासी, अल्पसंख्यक समाज के साथ साथ प्रगतिशील समाज को भी संगठन मे हिस्सेदारी दी गई है।

उन्होंने कहा, ‘सोची समझी साजिश के तहत राजद को एम वाई समीकरण वाली पार्टी प्रचारित कर पार्टी के दायरे को सीमित करने का प्रयास किया गया। यह हमारे विरोधयों की साजिश थी। राजद का जनाधार मजबूत है। ये पार्टी तो गरीब, अभिवंचित, मजदूर, किसानों के साथ साथ सब की पार्टी है।हम बिना भेदभाव सब के लिये काम करते हैं सब को सामाजिक न्याय और सत्ता मे बजागीदारी दिलाना मेरा प्रथम उद्देश्य है।’

 

 

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button