Breaking Newsदेश

लालटेन काल का अंधेरा अब छंट चुका है, बिहार आगे बढ़ चुका हैः मोदी

पटना। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश में टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल बढ़ाने में उन लोगों की बड़ी भूमिका है, जिन्हें जंगलराज के दौर में यहां से पलायन के लिए मजबूर होना पड़ा। पहले अस्पताल में एक डॉक्टर का मिलना दुर्लभ था। अब जगह-जगह मेडिकल कॉलेज और एम्स जैसी सुविधाओं की आकांक्षा है। अटल जी कहते थे कि बिहार में बिजली की परिभाषा ये है कि जो आती कम है, जाती ज्यादा है। लालटेन काल का अंधेरा अब छंट चुका है, लेकिन बिहार की आकांक्षा अब लगातार बिजली, एलईडी बल्ब की है। बीते डेढ़ दशक में नीतीश कुमार की अगुवाई में बिहार विकास की प्रगति पर आगे बढ़ चुका है। कुशासन से हटकर सुशासन के मार्ग पर चल रहा है। प्रधानमंत्री मोदी बुधवार को पटना के वेटनरी कॉलेज मैदान में एनडीए प्रत्याशियों के पक्ष में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे।

बिहार में आईटी हब बनने की पूरी संभावना है

बिहार में आईटी हब बनने की पूरी संभावना है। यहां पटना में भी आईटी की बड़ी कंपनी ने अपना ऑफिस खोला है। सिर्फ ऑफिस ही नहीं खुला है, बिहार के नौजवानों के लिए नये अवसर भी खुले हैं। बीते वर्षों में दर्जन भर बीपीओ पटना, मुजफ्फरपुर और गया में खुले हैं।

बिहार को मिलने वाला है नई शिक्षा नीति का लाभ

प्रधानमंत्री ने कहा कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में भाषा और अवसरों के अभाव के कारण बिहार का जो हमारा गरीब और वंचित छूट जाता था, उसको सबसे ज्यादा लाभ होने वाला है। बीते समय में शिक्षा से लेकर शासन तक, किसान से लेकर श्रमिक तक, ईज ऑफ लिविंग से लेकर ईज ऑफ डूइंग बिजनेस तक के लिए अभूतपूर्व रिफॉर्म्स किए गए हैं। आज साढ़े तीन दशक बाद नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति देश को मिल चुकी है।

 

 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button