Breaking Newsदेश

हिंसा से कोई समाधान नहीं : केजरीवाल

नई दिल्ली,। दिल्ली में हो रही हिंसक घटनाओं पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने चिंता जताई है। उन्होंने कहा है कि दिल्ली में जो हालात खराब हुए हैं वो चिंताजनक हैं, हिंसा से कोई समाधान नहीं। हिंसा में जिनकी मौत हुई है वो हमारे लोग हैं, स्थिति अच्छी नहीं है।

पत्रकार वार्ता को संम्बोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि स्थानीय पुलिस के पास एक्शन की पावर नहीं है। वे एक्शन के लिए ऊपर से आदेश का इंतजार कर रहे होते हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली की सीमा को सीज करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि आज मैंने सभी विधायकों की बैठक बुलाई है। बैठक में सभी पार्टियों के विधायकों ने हिस्सा लिया। हमने हॉस्पिटल को निर्देश दिए गए हैं कि घायलों का बेहतर इलाज हो। सबकी शिकायत है कि पुलिस की संख्या कम है। निचले स्तर पर कार्रवाई करने के अधिकार नहीं है। 

केजरीवाल ने इस दौरान तीन निर्देश भी दिए। उन्होंने बताया कि शांति मार्च के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। पीड़ितों को आवश्यक सहायता प्रदान करने के लिए अस्पताल के अधिकारियों को निर्देश दिया है। इसके साथ ही अग्निशमन विभाग को सतर्क रहने और प्रभावित क्षेत्रों में तत्काल सहायता प्रदान करने का निर्देश दिया है।

केजरीवाल ने आरोप लगाते हुए कहा कि बॉर्डर को सील करने की जरूरत है, बाहर से लोग आ रहे हैं। केजरीवाल ने कहा कि लोकल लेवल पर पीस कमिटी की बैठक हो। इसके साथ ही मंदिर और मस्जिद से शांति की भी अपील हो।

इससे पहले आम आदमी पार्टी के विधायक सोमवार देर रात दिल्ली के उप-राज्यपाल के आवास के बाहर दिल्ली की बिगड़ती कानून व्यवस्था पर बात करने पहुंचे थे। इसके बाद मंत्री गोपाल राय के नेतृत्व में सभी विधायक देर रात तक एलजी आवास के बाहर धरने पर बैठ गए थे। इसी दौरान आम आदमी पार्टी नेता एवं राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने कहा था कि देश की राजधानी दिल्ली जल रही है।

गृहमंत्री अमित शाह हिंसा को रोकने की कोई कोशिश नहीं कर रहे हैं। कानून का राज जंगल राज बन गया है। दंगाई खुलेआम हिंसा और आगजनी कर रहे हैं कोई पुलिस अधिकारी फ़ोन तक नही उठा रही है।

 

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button